सवाल - जवाब

प्रश्न :- सहकारी संस्थाओं का पंजीयन किस प्रकार से होता है ?

उत्तर :- सहकारी संस्थाओं के पंजीयन हेतु विभाग द्वारा पोर्टल ICMIS पोर्टल : https://icmis.mp.gov.in/ का क्रियान्वयन किया जा रहा है, जिसमे आवेदक द्वारा ऑनलाइन संस्था पंजीयन हेतु आवेदन किया जायेगा एवं सम्बंधित कार्यालय द्वारा ऑनलाइन ही पोर्टल से आवेदन स्वीकृत/अस्वीकृत किया जायेगा | स्वीकृति की दशा में संस्था पंजीयन का प्रमाण-पत्र भी ऑनलाइन ही प्राप्त होता है | 

सम्पूर्ण प्रक्रिया की जानकारी हेतु क्लिक करें| 

प्रश्न :- सहकारी संस्था का पंजीयन करने हेतु किससे सम्पर्क करना होता है ?

उत्तर :- उपरोक्तानुसार -ऑनलाइन प्रक्रिया है |

प्रश्न :- उपविधियों मे संशोधन किस प्रकार से होता है

उत्तर :- संस्था की साधारण सभा में उपविधि संशोधन संबंधी प्रस्ताव पारित कर प्रारूप ख,ग एवं घ में आवेदन पत्र जिले में पदस्थ उप सहायक पंजीयक सहकारी समितियों के समक्ष प्रस्तुत किये जावें। उपविधि संशोधन संबंधित संशोधन नियमानुसार एवं सहकारी अधिनियम एवं नियम के प्रावधानों के अंतर्गत होने पर उक्त संशोधन पंजीकृत किया जाता है।

प्रश्न :- प्राथमिक कृषि साख समिति की ऋण वितरण की प्रक्रिया क्या है ?

उत्तर :- ग्रामीण साख सहकारी संस्थायें, शहरी साख सहकारी संस्थायें, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंकों एवं नागरिक सहकारी बैंकों तथा जिला सहकारी कृषि विकास बैंकों द्वारा विविध प्रायोजनों हेतु अपने सदस्यों द्वारा ऋण आवेदन विहित प्रारूप में आवश्यक दस्तावेजों के साथ उन्हें प्रस्तुत करने पर ऋण वितरण किया जाता है।

प्रश्न :- खाद बीज कहां से प्राप्त किया जाता है ?

उत्तर :- ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत कृषि साख सहकारी संस्था की सदस्यता प्राप्त कर खाद बीज प्राप्त किया जाता है।

प्रश्न :- सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंर्तत संचालित शासकीय उचित मूल्य की दुकानों की शिकायत कहां करनी होती है ?

उत्तर :- प्रश्नांश से संबंधित शिकायते जिले में पदस्थ उप सहायक पंजीयक सहकारी संस्थायें, या खाध अधिकारी अथवा कलेक्टर को की जानी चाहिये।